समस्तीपुरः शराब का कारोबार व कारोबारी मस्त, पुलिस पस्त

जिले में पूर्ण शराब बंदी का जनाजा निकल गया है। एक तरफ पुलिस चन्द बोतल शराब व चन्द कारोबारी को गिरफ्तार कर अपनी पीठ थपथपा रही है तो दूसरी तरह शराब के कारोबारी मस्ती में है। होली के अवसर पर जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में खुदरा विक्रेता को पुलिस ने शराब के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। जबकि होलसेल कारोवारी अब भी सलाखों से बाहर है। रोसड़ा प्रखंड में तो शराब कारोबारी का नंगा नृत्य चलता है। पुलिस इन कारोबारी को कुछ नहीं बिगाड़ पाती है। सिंघिया, हसनपुर, बिथान की कहानी तो अलग किस्म की है। शराब कारोबारी को पकड़ने में पुलिस नकारा साबित हो रहीं है लेकिन गांव के लोग इसमें पुलिस को मदद कर रहे है। विभितिपुर, दलसिंगसराय शराब कारोबारी का सेफजोन बना हुआ है। खानपुर थाना क्षेत्र का अमसौर चौर, एवं समना, धाईध विशनपुर गांव के इंटेरियर इलाके में शराब उतारने का खेल एक साल से जारी है। बागमति नदी एवं करेह नदी का किनारा शराब रखने के लिए सेफ जोन में शामिल है। लग्जरी वाहन से शराब ढ़ोने का खेल जारी है। कुल मिलाकर कह सकते है कि कारोबारी के आगे पुलिस बौनी साबित हो रहीं है। पिकअप, बोलेरो, स्कार्पियों , बाईक से शराब की खेप प्रतिदिन ऑखों के सामने स होकर जाती है। लेकिन पुलिस के लोग मुॅंह देखते रह जाया करते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *