पड़तालः कौन कितना बोल रहा है झूठ?

अंक -1
लोकसभा चुनाव का समय है। दो सामान्तर गठबंधन आमने सामने है। दोंनों गठबंधन झूठ की खेती कर रहा है। अब सवाल उठता है कौन कितना झूठ बोल रहा है। पीएम नरेन्द्र मोदी ने कल यूपीए गठबंधन या कहें महागठबंधन को महामिलावटी कह दिया। अब देखिए! मोदी के मुताबिक महागठबंधन में शामिल दल भ्रष्टाचारी है। महागठबंधन में प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से शामिल दलों में कांग्रेस, राजद, सपा, बसपा, तृणमूल कांग्रेस, रालोसपा, भीआईपी, हम, लोकतांत्रिक जनता पार्टी, डीएमके, आरएलडी,एनसीपी, आप, समेत कुल 22 पार्टी के नेता एक साथ है। इसको हम ममता बनर्जी की कोलकता रैली के अनुसार व्यक्त कर रहे है। अब राजग को लीजिए ! इस दल में बीजेपी, जदयू, लोजपा, शिवसेना, तेजगुदेशम, शिरोमणि अकाली दल, जम्मू कश्मीर पीपुल्स डेमोक्रेटिक,अपना दल, नागा पीपुल्स फ्रंट,ऑल इंडिया एन आर कांग्रेस,नेशनल पीपुल्स पार्टी,पट्टाली मक्कन पार्टी,ऑल झारखंड स्टूडेन्ट यूनियन, गोरखा जनमुक्ति मोर्चा,दड़वीड़ करगम, के अलावे वैसी कई पार्टीयां है जिनका संसदीय इतिहास नहीं रहा है, लेकिन वे विभिन्न राज्यों में क्षेत्रीय दल के रूप में उभरे है। ऐसे तकरीबन 22 दल बीजेपी गठबंधन में भी है। ऐसे में में आपको निष्कर्ष के लिए छोड़ता हूॅं की यदि महागठबंधन में 22 दल है तो देश को गठबंधन की सरकार नहीं चाहिए। तो फिर राजग गठबंधन में 22 दल है तो हमें बीजेपी की सरकार ही क्यों चाहिए। मैं यहॉं यह कह सकता हूॅं की दोंनों दल गठबंधन कर चुनाव लड़ रहे है। आपको देश हित में जिस गठबंधन को चुनना चाहें उसे ही चुनें। हम आपको कल भी पड़ताल का दूसरा अंक प्रस्तुत करेंगे।
लेखकःसंजीव कुमार सिंह
आईना समस्तीपुर मासिक पत्रिका एवं संजीवनी बिहार न्यूज पेपर के संपादक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *