(अंक -2 ) पड़तालः हवा हवाई घोषणा@सांसद आदर्श ग्राम योजना !

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सांसद आदर्श ग्राम योजना को झूठ का दूसरा पैमाना मान सकते है। इस योजना का हश्र हवा हवाई ही होकर रह गया। सांसद आदर्श ग्राम योजना गांवों के निर्माण और विकास हेतु कार्यक्रम है। जिसका मुख्य लक्ष्य ग्रामीण इलाकों में विकास करना है। इस कार्यक्रम का शुभारंभ भारत के प्रधान मंत्री, नरेन्द्र मोदी जी ने जयप्रकाश नारायण के जन्म दिन 11 अक्टूबर 2014 को शुरू किया।सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गांवों में विकास और बुनियादी ढाँचे रखने हेतु सभी राजनीतिक दलों के सांसद को इस योजना के तहत गाँव को गोद लेना है और 2016 तक उसे आदर्श गाँव बनाना है। इय योजना में गोद लिए गयं गांवों का हर क्या हुआ यह आप सबों को अच्छी तरह से पता है। यदि फिर भी आपको लग रहा है कि इस क्षेत्र में काम हुये है तो आप संबंधित संसदीय क्षेत्र के गांवों का जायजा उस गांव में पहुॅंचकर ले सकते है। हमने ले लिया है। इसलिए पड़ताल फेज -2 में हम इसे झूठ का दूसरा पैमाना मानते है।

क्षेत्र सांसद गोद लिया गया गांव
हाजीपुर             रामविलासपासवान                    अकबरमलाही
समस्तीपुर       रामचंद्रपासवान                                 कुबौलीराम
उजियारपुर       नित्यानंदराय                                      कृष्णवाड़ा
गोपालगंज         जनकराम                                            खैराआजम
सुपौल              रंजीतारंजन                                               सरोजाबेला
मधेपुरा               राजेशरंजन                                        सहुरिया
छपरा               राजीवप्रताप रूडी                       सिताबदियारा
महाराजगंज    जर्नादनसिंह                      सिग्रीवाल बरेजा
पू.चंपारण                राधामोहन सिंह                      खैरीमल
बेगूसराय                 भोलासिंह                               सिमरिया
नवादा                गिरिराजसिंह                            खनवा
आरा                    राजकुमारसिंह                     पूर्वीगुंडी
वैशाली                रामाकिशोर सिंह              घोसौत
औरंगाबाद            सुशीलकुमार सिंह        केसपा
पटना साहिब      शत्रुघ्नसिन्हा              नरौली
अररिया            तस्लीमुद्दीन(दिवंगत)     औराही
सीवान          ओमप्रकाश यादव           जीरादेई
मधुबनी         हुकुमदेवनारायण यादव     बनकट्‌टा
बांका          जयप्रकाशनारायण यादव                   कोल्हसर
पाटलिपुत्र          रामकृपालयादव                    चंढोस
 
कटिहार        तारिकअनवर                    निमौल
दरभंगा     कीर्तिझा आजाद              नवांनगर
बक्सर     अश्विनीकुमार चौबे              बड़उर
झंझारपुर   वीरेन्द्रकुमार चौधरी     सिरखरिया
शिवहर           रमादेवी                                 धनकौल
मुंगेर                  वीणादेवी                                तारतर
वाल्मीकिनगर          सतीशचंद्र दुबे                  बेल्हवामदनपुर
प.चंपारण    संजयजायसवाल                             मझरिया
खगड़िया  चौधरीमहबूब अली कैसर               सिटनाबाद
नालंदा               कौशलेन्द्रकुमार                      नानंद
जहानाबाद                    अरुणकुमार                     धरौत
पूर्णिया                           संतोषकुमार           चांदी
भागलपुर                  शैलेश   कु मार               इस्माइलपुर
सीतामढ़ी             रामकुमार शर्मा                   बरियारपुर
काराकाट          उपेंद्रकुशवाहा                                अमियावर
गया                            हरिमांझी                                 बकरौर
किशनगंज                       मो.असरारुल हक              एकरा
मुजफ्फरपुर                अजयनिषाद                           यजुआर
सासाराम                    छेदीपासवान                      मलहीपुर
जमुई                  चिरागपासवान                                 दहियारी
नोटः कल हम पड़ताल तीन प्रस्तुत करेंगे। जो मोदी के झूठ का तीसरा पैमाना होगा।
प्रस्तुती : संजीव कुमार सिंह
लेखक आईना समस्तीपुर मासिक पत्रिका एवं संजीवनी बिहार समाचार पत्र के संपादक है। इससे पूर्व ये दैनिक जागरण एवं हिन्दुस्तान समाचार पत्र में वर्षो तक कार्यरत रहे है।

पड़तालः कौन कितना बोल रहा है झूठ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *