रोसड़ा में सरकारी कार्यालयों में घूसखोरी, शाखा प्रबंधक चढ़ें निगरानी के हत्थे

image

You must need to login..!

Description

 

रोसड़ा अनुमंडल क्षेत्र से घूस लेने के आरोप में इन पांच वर्ष में पांच से अधिक अधिकारी गिरु्तार कर लिये गये है। यह इस बात का जीता जागता सबूत है कि रोसड़ा अनुमंडल के विभिन्न सरकारी कार्यालयों में घूस लेने का सिलसिला थम नहीं रहा है। इसी कड़ी में रोसड़ा सेंट्रल बैंक के शाखा प्रबंधक जितेंद्रनाथ को पटना सीबीआई की टीम ने सोमवार को ग्राहक से 20 हजार रुपये घूस लेते शाखा में ही रंगे हाथ दबोचा।पटना से आए सीबीआई की 8 सदस्यों की टीम में इंस्पेक्टर आशीष पांडे,श्री नारायण,अशोक कुमार झा एवं सब इंस्पेक्टर कुमार अमित शामिल थे।
विदित हो कि शाखा प्रबंधक ने प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना के तहत 5 लाख रुपये के ऋण में मिलने वाली सब्सिडी का आधा हिस्सा घूस के रूप में ग्राहक से लेने की बात कही थी।
ग्राहक रोसड़ा के स्वर्ण व्यवसायी संजय कुमार ठाकुर ने शाखा प्रबंधक के अड़ियल रवैये को ले पटना स्थित सीबीआई कार्यालय में शनिवार को आवेदन दिया।तत्पश्चात सोमवार को सीबीआई की टीम ने रोसड़ा पहुंचकर कार्रवाई शुरू कर दी।
ठाकुर ने करीब 3 बजे दिन में बैंक पहुंचकर शाखा प्रबंधक को तत्काल 20 हजार रुपये रख लेने का आग्रह कर ऋण देने की मांग करने लगे।परंतु शाखा प्रबंधक ने हर हाल में सब्सिडी की आधी रकम देने के बाद ही ग्राहक को ऋण देने की बात पर अड़े रहे। किसी तरह मान मनौव्वल कर शेष राशि बाद में दे देने की बात कह कर श्री ठाकुर ने सीबीआई द्वारा केमिकल लगे 20 हजार रुपये शाखा प्रबंधक को दे दिए। इस बात की जानकारी बाहर खड़े सीबीआई टीम को ज्योंहि हुआ,बगैर देरी किए हुए छापेमारी कर दी।
टीम ने शाखा प्रबंधक के पास से रुपए के अलावे मोबाइल जप्त कर लिया।उसके बाद शाखा प्रबंधक को टीम के सदस्यों ने उनके शारदा नगर स्थित किराए के मकान पर ले जाकर छापेमारी की।जहाँ से कई महत्वपूर्ण कागजात भी टीम ने जब्त किया। सीबीआई द्वारा की गयी इस तरह की कार्रवाई से एक ओर जहाँ विभिन्न बैंकों में हड़कंप मच गया,वहीं पूरे शहर में यह चर्चा का बिषय बन गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *