बिहारः परिवार व राजनीति में तेजस्वी दे रहे है अग्निपरीक्षा….,!

||संपादक संजीव कुमार सिंह की खास रिपोर्ट||
बिहार में लालू प्रसाद यादव ने जिस राजनीतिक विचारधारा की लड़ाई को मुखर किया, उस लड़ाई की कमान आज उनके बेटे तेजस्वी यादव संभालना चाहते है। ऐसे में आप कह सकते है कि राजनीति में तेजस्वी की अग्निपरीक्षा की घड़ी है। यदि लोकसभा चुनाव में बिहार की अधिकांश सीट पर महागठबंधन की जीत होती है तो इसका श्रेय तेजस्वी यादव को ही जायेगा। क्योंकि एक तरफ नरेन्द्र मोदी तो दूसरे तरफ बिहार की सत्ता पर काबिज नीतीश कुमार समेत पप्पू यादव, रामविलास पासवान जैसे धुरंधर खिलाड़ी है तो दूसरी तरफ राजद के खेवनहार बने तेजस्वी यादव खड़े है। परीक्षा की इस घड़ी में पारिवारिक कलह भी कमतर नहीं है बड़े भाई तेजप्रताप तेजस्वी के कदमताल का साथ देने के बदल तेजस्वी को कई सीटों पर चुनौती दे रहे है। एक तरफ परिवार की चिंता, दूसरी तरफ लालू प्रसाद यादव के जेल में रहने , तीसरी तरफ परिवार की पहली बहु एवं भाई के बीच बनाव नहीं, चैथी तरफ राजनेताओं को टिकट नहीं मिलने से उत्पन्न परिस्थिति। ऐसे में आप कह सकते है कि तेजसवी आग में पक रहे है। ऐसे में 2014 के मुकाबले यदि वे अधिक सीट जीतने में सफल रहे तो भविष्य में वे लालू प्रसाद यादव की जगह ले लें तो कोई उन्हें रोक नहीं सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *