समसामयिकः जिन्ना के जिन्न से जदयू का डूब ना जाय लुटिया …!

गिरिराज सिंह ने जिन्ना का जिन्न निकाल कर भले ही अपना बेरा पार लगाने की मुहिम को बल दे दिया हो, लेकिन इस जिन्न से जदयू का लुटिया डूबने का खतरा मंडराने लगा है। बेगूसराय की सीट पर कन्हैया एवं तनवीर हसन से मुकाबले की राह आसान करने के मूड में आर पार की लड़ाई को धार देने के लिए गिरिराज ने इस बार जिन्ना का जिन्न का सहारा ले लिया है। इस सहारे के पीछे का सच यह है कि यदि जिन्ना का जिन्न निकल गया तो मुकाबले से कन्हैया का बेरा गर्क हो जायेगा । मुसलमान वोट तनवीर हसन में शिप्ट कर जायेगा, भूमिकारों का वोट गिरीराज हासिल कर लेंगे। ऐसे में वे अपने जीतने के समीकरण पर चैका लगा दिया है और आने वाले समय में छक्का भी लगाने वाले है। लेकिन इस ब्यान के बाद एक बार फिर सियासत में गर्माहट आ गयी है। इस ब्यान से जदयू का बेरा गर्क होना तय है। क्योंकि जदयू को मुसलमान भी वोट करते है। यदि मुसलमानों ने बीजेपी के इस नेता के ब्यान को लेकर एकजुटता दिखलायी तो इसका फायदा राजद को मिलना तय है। हिन्दुत्व के नाम पर बीजेपी को वोट मिलेंगे तो सांप्रदायिकता के नाम पर इनके वोट बिखड़ेंगे। ऐसे में बहुलता के आधार वर जीत हार के समीकरण बनेंगे एवं बिगड़ेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *