रोसड़ाः पचगामा गांव से 35 कार्टून शराब बरामद,चर्चा में है सफेदपोश नेता बने कारोबारी

image

You must need to login..!

Description

रोसड़ा थाना क्षेत्र के पचगामा गांव से 35 कार्टून शराब बरामदगी के बाद पुलिस अपनी सफलता को पीठ थपथपा रहीं है। वहीं थाना क्षेत्र में शराब की धड़ल्ले से हो रहीं बिक्री को लेकर भी चर्चाओं का बाजार गर्म है। चर्चा की मानें तो भीरहा, महुली, मब्बी, दामोदरपुर, एरौत, मुरादपुर, रहुआ, मोतीपुर-फत्तेपुर, गायघाट,बैद्यनाथपुर, मिर्जापुर, हिरमिया, ढ़रहा, सोनुपुर, लालपुर, हरिपुर जैसे दर्जनों गांव है। जहाॅं शराब कारोबारियों के दहशत में ग्रामीण कुछ बोल नहीं पा रहे है। कई कारोबारी पर शराब कारोबार में संलिप्तता को लेकर मुकदमा भी दर्ज है। कई फरार भी चल रहे है। कई कारोबारी जेल से आने के बाद भी धंधे में जुड़े हुये है। अवेध शराब के कारोबार मेंजुड़कर खासकर बड़े परिवार के धंधेबाज गरीब तबके के युवकों से होम डिलीवरी करवा रहे है। पान,चाय की दुकान की आड़ में शराब की बिक्री से ग्रामीण व शहरी क्षेत्र इन दिनों चर्चा में है। गोपनीय ढ़ग से चैकीदार या पुलिस मित्र के माध्यम से कारोबारियों का पता लगाया जा सकता है। शराब के धंधे में कारोबारियों का मनोबल काफी बढ़ा हुआ है। जिस कारण वे कभी भी किसी से भी उलझ जा रहे है। शराब की अवेध बिक्री पर प्रतिबंध लगना अति आवश्यक है। लेकिन पुलिस का गोपनीय सूत्र सही जानकारी नहीं कर पा रहा है। शायद यही कारण ही शराब कारोबार को फलने फूलने में मदद कर रहा है। महुआ शराब भी कई स्थानों पर निर्माण की जा रहीं है। कई सफेदपोश नेता व जनप्रतिनिधि भी इस काले कारोबार को संरक्षण दे रहे है। ऐसी चर्चा अब सरेआम सुनी जाने लगी है। देखना है रोसड़ा अनुमंडल क्षेत्र में पुलिस कब तक इन कारोबारियों को पकडने में सफल हो पाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *