हिन्दू जनजागृति समिति की 18 वीं वर्षगांठ पर आयोजित हुआ ऑनलाइन विशेष धर्मसंवाद

image
Description

धर्मशिक्षा और धर्माचरण के अभाव के कारण देश में हिन्दू समाज बहुसंख्यक होते हुए भी निरंतर मार खा रहा था । ऐसे समय हिन्दू जनजागृति समिति के प्रेरणास्रोत परात्पर गुरु डॉ. जयंत आठवलेजी के मार्गदर्शन में हिन्दुओं के लिए विविध माध्यमों से धर्मशिक्षा देना प्रारंभ किया गया । इस माध्यम से हिन्दू धर्माचरणी बन रहे हैं । अनेक हिन्दुत्वनिष्ठ संगठन गोरक्षा, घुसपैठ, लव जिहाद, धर्मांतरण, आतंकवाद, नक्सलवाद, पाकिस्तान-बांग्लादेश के अत्याचार पीडित हिन्दू आदि विषयों पर संघर्ष कर रहे हैं । हिन्दू धर्म पर होनेवालेे इन सर्व आघातों पर ‘हिन्दू राष्ट्र की स्थापना’ ही एकमात्र उत्तर है । यह ध्यान में रखकर वर्ष 2012 से 2019 की अवधि में समिति ने प्रतिवर्ष ‘अखिल भारतीय हिन्दू राष्ट्र अधिवेशनों’ का आयोजन किया । इसलिए पहले असंभव लगनेवाला हिन्दूसंगठन अब संभव हो रहा है । देश-विदेशों के सैकडों हिन्दुत्वनिष्ठ संगठन हिन्दू राष्ट्र के ध्येय से राष्ट्रीय स्तर पर संगठित और सक्रिय हो रहे हैं । यह सब ईश्‍वर और संतों की कृपा से साध्य हो रहा है, ऐसे कृतज्ञतापर उद्गार हिन्दू जनजागृति समिति के राष्ट्रीय मार्गदर्शक सद्गुरु (डॉ.) चारुदत्त पिंगळेजी ने व्यक्त किए । वे हिन्दू जनजागृति समिति की 18 वीं वर्षगांठ के निमित्त आयोजित ‘एक कदम हिन्दू राष्ट्र की ओर…’ इस विशेष धर्मसंवाद में बोल रहे थे । इन दो ग्रंथों का लोकार्पण किया गया । इस अवसर पर समिति की वर्षगांठ के निमित्त श्रीरामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र न्यास के कोषाध्यक्ष प.पू. गोविंददेवगिरीजी महाराजजी ने आशीर्वादरूपी शुभसंदेश दिया तथा तेलंगाना के प्रखर हिन्दुत्वनिष्ठ विधायक टी. राजासिंह, सुदर्शन समाचारवाहिनी के संपादक श्री. सुरेश चव्हाणके, श्रीराम सेना के अध्यक्ष श्री. प्रमोद मुतालिक, मथुरा की श्रीकृष्णजन्मभूमि का अभियोग लडनेवाले अधिवक्ता विष्णु शंकर जैन, ‘यूथ फॉर पनून कश्मीर’ के संयोजक श्री. राहुल कौल तथा अनेक मान्यवर हिन्दुत्वनिष्ठों की शुभकामनाओं के संदेश वीडियोद्वारा प्रसारित किए गए ।
हिन्दू जनजागृति समिति के सफल मार्गक्रमण के संबंध में बताते हुए समिति के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री. रमेश शिंदे ने कहा, ‘पहले कोई भी उजागर रूप से नाटक, चलचित्र, विज्ञापनों के माध्यम से हिन्दुओं के श्रद्धास्थानों का अनादर करता था। परंतु समिति ने उसके विरोध में निरंतर और लगन से संघर्ष किया, फलस्वरूप 400 से अधिक अनादर रोकने में समिति को सफलता मिली । इसलिए संपूर्ण देश का हिन्दू समाज भी जागृत हो गया है तथा हिन्दू धर्म पर हो रहे आघातों के विरोध में राष्ट्रीय स्तर पर संगठित रूप से आवाज उठा रहा है ।’ समिति के महाराष्ट्र आणि छत्तीसगढ संगठक श्री. सुनील घनवट ने कहा कि, सरकार प्रत्येक क्षेत्र का निजीकरण कर रही है उसके साथ ही संपूर्ण देश में केवल हिन्दुओं के मंदिरों का ही सरकारीकरण क्यों किया जा रहा है ? महाराष्ट्र के साढेचार लाख मंदिरों के सरकारीकरण का षड्यंत्र समिति ने संघर्ष कर विफल किया है । जब तक सर्व मंदिर भक्तों के पास नहीं आते, तब तक यह संघर्ष चलता ही रहेगा । इस अवसर पर सुराज्य अभियान के समन्वयक अधिवक्ता नीलेश सांगोलकर ने सामाजिक और स्वास्थ्य क्षेत्र की दुष्प्रवृत्तियों के विरोध में हिन्दू जनजागृति समिति द्वारा किए जा रहे संघर्ष की विस्तृत जानकारी दी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिहार के लिए फुल टाइम रिपोर्टर और स्ट्रिंगर चाहिए

0018562
Visit Today : 121
Visit Yesterday : 0
This Month : 121
This Year : 18562
Total Visit : 18562
Hits Today : 831
Total Hits : 182443
Who's Online : 7
Your IP Address: 3.237.67.179
Server Time: 20-12-01

हमारे बारे में

आर एन आई रजिस्ट्रेशन नम्बर=BIHHIN/2015/65499
हिन्दी मासिक पत्रिका -आईना समस्तीपुर
संपादक -संजीव कुमार सिंह
मोबाईल नम्बर -9955644631
ईमेल -ainasamastipur@gmail.com
Web-www.asnews.in
नोट– भारत सरकार के द्वारा मान्यता प्राप्त मासिक पत्रिका आईना समस्तीपुर समाचारपत्र का बेब पोर्टल डिजिटल साईट| इस पर आप क्षेत्रीय न्यूज़ डिजिटल रूप में देख सकते है|