आम बजट:स्वच्छ भारत अभियान के लिए 9000 करोड का आवंटन

image

You must need to login..!

Description

वित मंत्री अरूण जेटली ने सोमवार को वित्त्ीय वर्ष 2016-17 का आम बजट पेश किया। इस बजट के बाद महत्वपूर्ण घोषणाओं को लेकर राजनीतिक चर्चाएं छिड़ गयी।एक नजर इन महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर
.दस सरकारी विश्वविद्यालय तथा दस निजी विश्वविद्यालयों को विश्व स्तरीय बनाया जाएगा ।
.उच्च शिक्षा के लिए एक हजार करोड रूपये की लागत से वित्तीय एजेंसी का गठन।
.सड़क निर्माण में एक लाख करोड़ रुपए का निवेश|
.राष्ट्रीय राज मार्गो के लिए 55000 करोड का आवंटन ।
.प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत देश भर में 1500 बहुकौशल प्रशिक्षण केन्द्रों
की स्थापना के लिए 1700 करोड़ रूपये का प्रावधान के अगले तीन वर्ष में एक करोड
युवाओं को कौशल विकास प्रशिक्षण देने का लक्ष्य ।
.तीन वर्षों में एक करोड़ युवाओं को कौशल प्रशिक्षण दिया जायेगा।
.75 लाख परिवारों ने रसोई गैस सब्सिडी छोड़ी ।
.प्रति परिवार एक लाख रपये का बीमा कवर प्रदान करने के लिए एक नई स्वास्थ्य सुरक्षा योजनाए 60 साल से उपर के लोगों को इस योजना में 30,000 रपये का अतिरिक्त लाभ।
.शॉपिंग मॉल्स अब सप्ताह में सातों दिन खुलेंगे।
.कौशल विकास कार्यक्रम के तहत युवाआें को प्रशिक्षण देने के लिए 1,500 बहु कौशल प्रशिक्षण संस्थान खोले जाएंगे।
.कर्मचारी पेंशन कोष में सरकार 8ण्33 प्रतिशत का योगदान करेगी।
.एनएचएआईए आरईसी और नाबार्ड अगले वित्त वर्ष में पूंजी बाजार से 31,300 करोड़ रपये जुटाएंगे।
.ग्रामीण विकास के लिए 87,765 करोड़ रपये का आवंटन
.उच्चस्तरीय दवाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के तहत 3,500 मेडिकर स्टोर खोले जाएंगे।
.ग्राम पंचायत और शहरी निकायों की 2.87 लाख करोड रूपये का अनुदान ।
.1.5 करोड गरीब परिवारों को एलपीजी कनेक्शन देने के लिए 2000 करोड़ रूपये का आवंटन।
.देश भर में सस्ती डायलिसि सुविधा वाले राष्ट्रीय डायलिसि कार्यक्रम की
शुरूआत । इसमें काम आने वाले उपकरणों पर सभी करों की छूट।
.एक लाख रुपये प्रति वर्ष गंभीर रोगों की दवा में 1.3 लाख रुपये प्रतिवर्ष की राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना
.2016.17 में डेढ़ करोड़ गरीब परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन के लिए 2,000 करोड़ रपये का प्रावधान।
.नाबार्ड में 20ए000 करोड़ रपये के कोष के साथ दीर्घावधि का एक समर्पित सिंचाई कोष।
.कषि विकास योजना के तहत तीन साल में पांच लाख एकड़ जमीन को जैविक खेती के तहत लाया जाएगा।
.एक मईए 2018 तक देश के सभी गांवों में बिजली पहुंचाई जाएगी।
.मनरेगा के लिए 2016.17 में 38,500 करोड़ रपये का प्रावधान।
.आधार प्लेटफार्म पर लाभ के पात्र लोगों के लिए कानून बनाया जाएगा।
.वित्त वर्ष 2016.17 के लिए कषि रिण का लक्ष्य 9 लाख करोड़ रुपये।
.ई मार्केटिंग प्लेटफार्म 14 अप्रैल 2016 को बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर की जयंती पर शुरू किया जाएगा।
.प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के लिए 2016.17 में 19,000 करोड़ रपये का आवंटन। राज्यों के योगदान के बाद यह राशि 27,000 करोड़ रुपये होगी।
.स्वच्छ भारत अभियान के लिए 9000 करोड का आवंटन ।
.प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के लिए 3000 करोड़ रुपए का प्रावधान ।
.राष्ट्रीय डिजीटल साक्षरता मिशन में छह करोड़ घरों को तीन साल में डिजीटली साक्षर किया जाएगा ।
.ग्रामीण विकास के लिए 87,765 करोड रूपये का आवंटन ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *