ठाहर बसढ़िया पंचायत में वर्तमान जनप्रतिनिधि को घेरने के लिए लामबंद हो रहे है विरोधी

image
Description

कई पक्षधर बन बैठे है विरोधी तो कई विरोधी हिलाने लगे है दुम
इस बार का पंचायत चुनाव में फिंजा सजने की लोगों को है उम्मीद
क्षेत्रवाद की रणनीति पर बाह्राण एवं यादव मतदाताओं की गोलबंदी से पंचायत की राजनीति में सरगर्मी तेज
संजीव कुमार सिंह की रिपोर्ट

रोसड़ा प्रखंड का ठाहर बसढ़िया पंचायत में पंचायत चुनाव इस बार रोचक होने वाला है। पंचायत में कई चर्चित मामले इस बार के पंचायत चुनाव में वर्तमान जनप्रतिनिधियों के सामने उभरकर सामने आयेंगे। ठाहर बसढ़िया पंचायत में इस बार कुल 6273 मतदाता मतदान में भाग लेंगे। कुल तेरह वार्डो में बॅंटा यह पंचायत वर्ष 2001 के चुनाव में कांग्रेस के दिग्गज नेता सत्येन्द्र नारायण चैधरी के चुनाव जीतने के बाद चर्चा में आया था। सत्येन्द्र नारायण चैधरी दो बार विधानसभा का चुनाव भी कांग्रेस के टिकट पर लड़ चुके थे। एक बार के चुनाव में उन्होंने भोला मांडर एवं दूसरे बार के चुनाव में उन्होंने गजेन्द्र प्रसाद सिंह से मामूली वोट से चुनाव हार गये थे। लेकिन 2006 के चुनाव में सत्येन्द्र नारायण चैधरी जब मुखिया का चुनाव हार गये तो यह पंचायत सुर्खियों में आ गया। उन्हें पराजित कर राजेन्द्र शर्मा इस पंचायत के मुखिया बने। श्री शर्मा वर्ष 2011 एवं 2016 का चुनाव भी लगातार जीतते रहे। पंचायत अतिपिछड़ा वर्ग सामान्य के लिए आरक्षित होने के कारण सवर्ण उम्मीदवार इस पद से भाग्य नहीं आजमा रहे है। पंचायत के आरक्षित हो जाने से श्री शर्मा के घुर विरोधी सवर्ण मतदाता भी पिछले चुनाव में उन्हें वोट देकर उन्हें अपार मतों से जीताने में सफल रहे। उनके सगे भाई रामसागर शर्मा भी सरपंच पद पर चुने गये। एक भाई के पास विकास तो दूसरे के पास न्याय का जिम्मा पंचायत की जनता ने थमा दिया। इस पंचायत के मुकेश चैधरी जिला परिषद सदस्य के रूप में निर्वाचित है। पंचायत समिति के पद पर नीलम गुप्ता जो भाजपा नेत्री है जीती हुई है।
वर्तमान परिदृश्य

पंचायत में तकरीबन 500 मतदाता इस बार नये वोटर बने है। पंचायत में शामिल कमलपुर, बैद्यनाथपुर, ठाहर, मुसहरी, लक्ष्मीपुर, बलुआहा एवं गायघाट तथा अंश भाग बरैठा के मतदाता शामिल है। बैद्यनाथपुर एवं लक्ष्मीपुर गांव के लोग सर्वमान्य उम्मीदवार की तलाश में है। खासकर मुखिया एवं पंचायत समिति पद पर मतदाता श्री शर्मा के पक्ष एवं विपक्ष की भूमिका निभाने के लिए खुलकर सामने आ रहे है। बाह्रामण समाज दो भागों में विभक्त है। बैद्यनाथपुर एवं गायघाट के सवर्ण मतदाता एकजुट नहीं हो पा रहे है। श्री शर्मा को पिछले चुनाव में 1906 वोट मिले थे। उनके निकटतम प्रतिद्वंदी विन्देश्वर कमती को 727 वोट मिले थे। तीसरे स्थान पर रहे मोहम्मद मुर्शीद को 465 वोट मिले थे। इसके अलावे महेश मालाकर को 252, गणेश कमती 147 एवं मनटुन कमती 133 वोट प्राप्त करने में सफल रहे थे। यह आंकड़ा बता रहा है कि श्री शर्मा के विपक्ष में पंचायत के आधे उम्मीदवारों ने मत किया। इस बार श्री शर्मा के धुर विरोधी अभी से ही लामबंद होकर एक मंच पर आना चाह रहे है। हांलाकि यह संभव नहीं है। लेकिन यदि ऐसा हुआ तो चुनाव रोचक हो जायेगा। चर्चा है कि पंचायत समिति सदस्या नीलम गुप्ता मुखिया पद के उम्मीदवार के रूप में चुनावी दंगल में कूद सकती है। इसी प्रकार से सरंपच पद पर राम सागर शर्मा को 1601 मत मिले। निकटतम प्रतिद्वंदी सीयाशरण ठाकुर को 982 मत मिले। सीताराम शर्मा को 431, मोहम्मद मुबारक 385 एवं नन्दकिशोर कमती को 180 मत मिले। पंचायत समिति सदस्य पद पर नीलम गुप्ता को 1391, बुच्ची देवी को 1198 एवं खुशबू कुमारी को 999 मत मिले। इन तीनों पदों पर पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित उम्मीदवारों की सशक्त खोज जारी है। पिछले चुनाव के कई विरोधी इस बार पक्षधर तो कई पक्षधर विरोधी की भूमिका में देखे जा रहे है। आचार संहिता लगते ही चुनावी फिंजा सजने की उम्मीद सबों को है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिहार के लिए फुल टाइम रिपोर्टर और स्ट्रिंगर चाहिए

0064177
Visit Today : 66
Visit Yesterday : 310
This Month : 3720
This Year : 36616
Total Visit : 64177
Hits Today : 192
Total Hits : 671490
Who's Online : 7
Your IP Address: 3.80.6.131
Server Time: 21-05-14

हमारे बारे में

आर एन आई रजिस्ट्रेशन नम्बर=BIHHIN/2015/65499
हिन्दी मासिक पत्रिका -आईना समस्तीपुर
संपादक -संजीव कुमार सिंह
मोबाईल नम्बर -9955644631
ईमेल -ainasamastipur@gmail.com
Web-www.asnews.in
नोट– भारत सरकार के द्वारा मान्यता प्राप्त मासिक पत्रिका आईना समस्तीपुर समाचारपत्र का बेब पोर्टल डिजिटल साईट| इस पर आप क्षेत्रीय न्यूज़ डिजिटल रूप में देख सकते है|